Makar Sankranti Wishes

Top Best Makar Sankranti Wishes

तन में मस्ती, मन में उमंग,
चलो आकाश में डाले रंग,
हो जाये सब संग संग,
उडाए पतंग.. हैप्पी मकर संक्रान्ति

सपनों को लेकर मन में,
उड़ायेंगे पतंग आसमान में,
ऐसी भरेगी उड़ान मेरी पतंग,
जो भर देगी जीवन में खुशियों की तरंग।

सूरज की राशि बदलेगी,
कुछ का नसीब बदलेगा,
यह साल का पहला पर्व होगा,
जब हम सब मिल कर खुशियाँ मनाएंगे –
हैप्पी मकर संक्रांति 2022

काट ना सके कभी कोई पतंग आपकी,
टूटे ना कभी डोर विश्वास की,
छू लो आप ज़िन्दगी की सारी कामयाबी,
जैसे पतंग छूती है ऊँचाइयाँ आसमान की।
मकर सक्रांति की हार्दिक शुभ कामनायें

मंदिर की घंटी, आरती की थाली,
नदी के किनारे सूरज की लाली,
ज़िन्दगी में आये खुशियों की बहार,
आपको मुबारक हो संक्रांत का त्यौहार
हैप्पी मकर संक्रांति

तिल हम हैं और गुड़ आप
मिठाई हम हैं और मिठास आप
साल के पहले त्यौहार से हो रही है आज शुरुआत
आपको हमारी तरफ से
हैप्पी मकर संक्रांति

हो आपके जीवन में खुशियाली,
कभी भी न रहे कोई दुख देने वाली पहेली,
सदा खुश रहें आप और आपकी Family,
Happy Makar Sankranti

Happy Makar Sankranti Wishes
मिठे मिठे गुड़ में मिल गया TiL,
उड़ी पतंग और खिल गया DiL…
चलो उड़ाये पतंग सबलोग Mil…
Happy Uttarayan

आप को मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं..
“यादें अक्सर होती है सताने के लिए,
कोई रूठ जाता है फिर मान जाने के लिए
रिश्ते निभाना कोई मुश्किल तो नही,
बस दिलो में प्यार चाहिए उसे निभाने के लिए!!!!!”

खुले आसमान में जमी से बात न करो..
ज़ी लो ज़िंदगी ख़ुशी का आस न करो..
हर त्यौहार में कम से कम हमे न भूला करो..
फ़ोन से न सही मैसेज से ही संक्राति विश किया करो !!

गुड़ की मिठास,
पतंगों की आस,
संक्रांति में मनाओ जम कर उल्लास,
हैप्पी मकर संक्रांति 2022!

बिन सावन बरसात नहीं होती,
सूरज दुबे बिन रात नहीं होती,
अब ऐसी आदत हो गई है की
आपको wish किये बिन किसी
त्योहार की शुरुवात नहीं होती…

चिंटू मन्नू जल्दी आ जाओ
तिल्ली के लड्डू गब-गब खा जाओ
लुटेंगे खूब पतंगे मांजा इस बार
आया है मकर संक्राति का त्यौहार।

ख़ुशी का है यह मौसम,
गुड और टिल का है यह मौसम,
पतंग उड़ाने का है यह मौसम,
शांति और समृद्धि का है यह मौसम,
2021 मकर संक्रांति की शुभकामनायें

बंदे हैं हम देश के,
हम पर किसका ज़ोर?
मकर संक्रान्ति में उड़े,
पतंगे चारो और
लंच में खाएं फिरनी गोल,
अपना मांझा खुद सूतने,
आज हम चले छत की और,
हैप्पी मकर सक्रांति

सब फ्रेंड को मिले सन्मति,
आज है मकर संक्राति
स्वीट फ्रेंड उग गया दिनकर,
उड़ाए पतंग हम मिलकर
आकाश हो पतंग से आता,
सुनाओ वो मेरा वो कटा
Happy Makar Sankranti Friends

दिल में है छायी मस्ती
मन में भरी है उमंग
उड़ती हैं पतंगें रंग बिरंगी
आसमान में छाया मकर संक्रांति का रंग

मीठी बोली मीठी जुबान
मकरसंक्रांति का है ये हीपैगाम

पल पल सुनहरे फूल खिले,
कभी ना हो कांटों का सामना,
जिंदगी आपकी खुशियों से भरी रहे,
संक्रांति पर हमारी यही शुभकामना
Happy Makar Sankranti

खुले आसमा में जमी से बात न करो..
ज़ी लो ज़िंदगी ख़ुशी का आस न करो..
हर त्यौहार में कम से कम हमे न भूलो करो..
फ़ोन से न सही मैसेज से ही संक्राति विश किया करो !!

ऊँची पतंग से मेरी ऊँची उड़ान होंगी।
इस जहाँ में मेरे लिए मंजिले तमाम होंगी।
जब भी आसमान की और देखोगे तुम दोस्तों।
तुम्हारे ही हाथों मेरी डोर के साथ जान होंगी।
तिल्ली भी पीली और गुड़ में मिठास होंगी।
मकर सक्रांति पर्व पर मेरी तरफ से बधाइयाँ बार बार होंगी।

बासमती के चावल,
उड़द की दाल,
घी की खुशबू,
आम का अचार,
दही बड़े की महक और अपनों का प्यार,
मुबारक हो आपको खिचड़ी का त्योहार,
हैप्पी मकर संक्रांति

Leave a Reply

Your email address will not be published.